Namazo ki rakate mukhtalif kyu

Imam Jafar-e-Sadiq (a.s) se kisi ne poocha: Yeh Namazo ki rakate mukhtalif kyu hoti hai? Imam ne farmaya, Bunyadi tour par 2 r...



Imam Jafar-e-Sadiq (a.s) se kisi ne poocha:
Yeh Namazo ki rakate mukhtalif kyu hoti hai?
Imam ne farmaya,
Bunyadi tour par 2 rakate farz thi,
🍃🌹Jab Ali (a.s.) ne Zahoor kiya toh Hazoor Pak (s.a.w.w.) ne shukarane ki 2 rakate Asar mein padhi toh woh Allah ne 4 farz kardi.
🍃🌹Phir Janab-e-Syeda (a.s.) ki aamad par Maghrib ki namaz mein ek rakat shukarane ki ada ki toh woh 3 rakat wajib ho gayi.
🍃🌹Phir Hasnain (a.s.) ki aamad par 2, 2 rakate shukrane ki ada ki toh Isha aur zohar bhi 4,4 rakat ho gayi.
Imam farmate hai ke,
🍃🌹yehi wajah hai ke jab koi Halat-e-safar mein hota hai toh Hum apna Haq us se utha lete hai, lekin maghrib ki namaz 3 rakat hi ada ki jati hai, woh 🌹Haq-e-Zehra (s.a.)🌹 hai jo har hal main ada karna wajib hai.
REF: Ellal-ul-sharah'ay


प्रतिक्रियाएँ: 

Related

ahadith 2843839018157482758

Post a Comment

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments

Admin

Featured Post

नजफ़ ऐ हिन्द जोगीपुरा का मुआज्ज़ा , जियारत और क्या मिलता है वहाँ जानिए |

हर सच्चे मुसलमान की ख्वाहिश हुआ करती है की उसे अल्लाह के नेक बन्दों की जियारत करने का मौक़ा  मिले और इसी को अल्लाह से  मुहब्बत कहा जाता है ...

Discover Jaunpur , Jaunpur Photo Album

Jaunpur Hindi Web , Jaunpur Azadari

 

Majalis Collection of Zakir e Ahlebayt Syed Mohammad Masoom

A small step to promote Jaunpur Azadari e Hussain (as) Worldwide.

भारत में शिया मुस्लिम का इतिहास -एस एम्.मासूम |

हजरत मुहम्मद (स.अ.व) की वफात (६३२ ) के बाद मुसलमानों में खिलाफत या इमामत या लीडर कौन इस बात पे मतभेद हुआ और कुछ मुसलमानों ने तुरंत हजरत अबुबक्र (632-634 AD) को खलीफा बना के एलान कर दिया | इधर हजरत अली (अ.स०) जो हजरत मुहम्मद (स.व) को दफन करने

जौनपुर का इतिहास जानना ही तो हमारा जौनपुर डॉट कॉम पे अवश्य जाएँ | भानुचन्द्र गोस्वामी डी एम् जौनपुर

आज 23 अक्टुबर दिन रविवार को दिन में 11 बजे शिराज ए हिन्द डॉट कॉम द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर स्थित पत्रकार भवन में "आज के परिवेश में सोशल मीडिया" विषय पर एक गोष्ठी आयोजित किया गया जिसका मुख्या वक्ता मुझे बनाया गया । इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी

item