बेशर्म बेहया

बे शर्म और बे हया लोगो की कभी उनकी नज़र में  बेइज्ज़ती नही होती ! क्यों की उन्हें इज़्ज़त के मायने ही पता नहीं होते | उन्हें तो बस इतना पता हो...

बे शर्म और बे हया लोगो की कभी उनकी नज़र में  बेइज्ज़ती नही होती ! क्यों की उन्हें इज़्ज़त के मायने ही पता नहीं होते | उन्हें तो बस इतना पता होता है हर हाल में जीतना है उसके लिए आख़िरत जाय या हुक्म ऐ खुदा के खिलाफ  जाना पड़े या बेहयाई करनी पड़े और इसी जीत के शौक में उनकी हार  हो जाती है और उन्हें पता भी नहीं चलता | मिसाल के तौर पे मुआविया और उसका बेटा यज़ीद जिसने इस्लाम के नाम का गलत  इस्तेमाल करते हुए अहलेबैत के  खिलाफ झूट फरेब और ज़ुल्म का इस्तेमाल किया और  हमेशा के लिए हार गया | अहलेबैत ने ज़ुल्म सहा और अल्लाह पे यक़ीन करते हुए सब्र  किया और हमेशा के लिए जीत गए |

आज उन ज़ालिमों की  ना दुनिया रही न आख़िरत | अहलेबैत का परचम पूरी दुनिया में लहरा रहा है और आख़िरत में तो जन्नत की सरदारी है ही | 



Apne maazi se jo virsay main mile hain hum ko By Iqbal Azeem

Apne maazi se jo virsay main mile hain hum ko
In asoolon ki tijarat nahin hogi hum se
Ehd-e-Hazir ki her ik baat humain dil se qabool
Sirf toheen-eriwayat nahin hogi hum se
Jhoot bhi bolain, sadaqat ke payambar bhi banain
Hum ko bakhsho, ye siyasat nahin hogi hum se
Zakhm bhi khayen, raqebon ko duain bhi dain
Itni makhdosh sharafat nahin hogi hum se
Surkh pathar ke sanam hon ke woh pathar ke sanam
But kadon main to ibadat nahin hogi hum se
Hai ita’at ke liye apna faqat aik khuda
Na-khudaon ki ita’at nahin hogi hum se
Gher mashroot rafaqat ke tarafdar hain hum
Shart ke saath rafaqat nahin hogi hum se
Fikr-o-Izhaar main hum hukm ke paband nahin
Shayari hasb-e-hidayat nahin hogi hum se
Sirf ye batain agar aap gawara karen
Aap ko koi shikayat nahin hogi hum se



प्रतिक्रियाएँ: 

Related

dosti 2728013034916633757

Post a Comment

emo-but-icon

Follow Us

Hot in week

Recent

Comments

Admin

Featured Post

नजफ़ ऐ हिन्द जोगीपुरा का मुआज्ज़ा , जियारत और क्या मिलता है वहाँ जानिए |

हर सच्चे मुसलमान की ख्वाहिश हुआ करती है की उसे अल्लाह के नेक बन्दों की जियारत करने का मौक़ा  मिले और इसी को अल्लाह से  मुहब्बत कहा जाता है ...

Discover Jaunpur , Jaunpur Photo Album

Jaunpur Hindi Web , Jaunpur Azadari

 

Majalis Collection of Zakir e Ahlebayt Syed Mohammad Masoom

A small step to promote Jaunpur Azadari e Hussain (as) Worldwide.

भारत में शिया मुस्लिम का इतिहास -एस एम्.मासूम |

हजरत मुहम्मद (स.अ.व) की वफात (६३२ ) के बाद मुसलमानों में खिलाफत या इमामत या लीडर कौन इस बात पे मतभेद हुआ और कुछ मुसलमानों ने तुरंत हजरत अबुबक्र (632-634 AD) को खलीफा बना के एलान कर दिया | इधर हजरत अली (अ.स०) जो हजरत मुहम्मद (स.व) को दफन करने

जौनपुर का इतिहास जानना ही तो हमारा जौनपुर डॉट कॉम पे अवश्य जाएँ | भानुचन्द्र गोस्वामी डी एम् जौनपुर

आज 23 अक्टुबर दिन रविवार को दिन में 11 बजे शिराज ए हिन्द डॉट कॉम द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर स्थित पत्रकार भवन में "आज के परिवेश में सोशल मीडिया" विषय पर एक गोष्ठी आयोजित किया गया जिसका मुख्या वक्ता मुझे बनाया गया । इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी

item